Breaking News

शिक्षकों के ऊपर बिहार सरकार के पुलिस प्रसासन ने जमकर बरसाई लाठियाँ.

Screenshot_20200314-220137_Facebook

जन अधिकार छात्र परिषद के जिला अध्यक्ष बिजेन्द्र कुमार ने प्रेस ब्यान जारी कर कहा कि नियोजित शिक्षक अपने हिस्से की हक मांग रहे शिक्षकों के ऊपर बिहार सरकार के पुलिस प्रसासन ने जमकर बरसाई लाठियाँ.कहाँ का न्याय है ,यह जहाँ हक माँगने पर लाठियों की बौछार मिलती है,
बिहार,की कानून व्यवस्था इतनी बुरी तरह चरमरा गई है कि ना तो बिहार में शिक्षकों की व्यवस्था ठीक है ,ना छात्रों की ना अस्पतालों की ना स्कूलों की और तो और कल जब बिहार के नियोजित शिक्षक समान काम समान वेतन के लिए राज्य भर से एकजुट होकर आंदोलनरत हुए।
तब नीतीश कुमार के प्रशासन ने उन पर जमकर लाठी बरसाई शिक्षकों को धमकी दी गई पुलिस ने शिक्षकों को भड़काया 5000 से अधिक अज्ञात शिक्षकों पर केस दर्ज करवाया ,5 शिक्षकों को गिरफ्तार किया गया। राज्य भर के नियोजित शिक्षक अपनी 13 सूत्री मांगों को लेकर जब उन्होंने विधानसभा घेराव किया। तब पुलिस ने द्वारा उन पर जमकर लाठीचार्ज किया गया। साथ ही वॉटर कैनन से पानी की बौछार की गई ,आंसू गैस के गोले भी दागे गए इस पर भी प्रदर्शनकारी शिक्षक नहीं माने तो पुलिस ने उन्हें दौरा दौरा कर पीटा लेकिन बिहार सरकार, और नीतीश कुमार बहरे बन बैठे हुए थे। शिक्षकों के साथ अमानवीय व्यवहार बिल्कुल बरदास्त नही किया जा सकता गर्दनीबाग में जाप अध्यक्ष पप्पू यादव जी पहुंच कर शिक्षक की लड़ाई को समर्थन करते हुए उन्होंने कहा कि बिहार के सरकार और बिपक्ष के चिंता शिक्षक नही है ,मुजफरपुर में मासूम बच्चों की मौत नही औरंगाबाद गया लू से मौत नही ,बाढ़ से प्रभावित लोग नही जो डूब कर मर रहे है ,बेरोजगारी चिंता नही है ,सत्ता और बिपक्ष की चिंता कौन सरकार में रहेगा सीट सुरक्षित रहे ,उनकी चिंता बिहार के 11 करोड़ जनता नही है इसलिए बिहार में जन अधिकार पार्टी आर पार की लड़ेगी

Related Articles

Back to top button
Close