Breaking News

पत्रकार पर हुई गलत कार्रवाई के विरोध में जिले के पत्रकारों ने पुलिस अधीक्षक को सौंपा ज्ञापन

Screenshot_20200131-135058_Business Card Maker
Screenshot_20200131-140356_Business Card Maker
Screenshot_20200202-162010_Business Card Maker
20200205_142001

*खबर बुरहानपुर से अनिल महाजन की रिपोर्ट*

*पत्रकार पर हुई गलत कार्रवाई के विरोध में जिले के पत्रकारों ने पुलिस अधीक्षक को सौंपा ज्ञापन* बुरहानपुर। सिटी कोतवाली पुलिस द्वारा पत्रकार पर गलत कार्रवाई किए जाने के विरोध में बुरहानपुर जिले के 50 से अधिक पत्रकारों ने पुलिस अधीक्षक श्री अजय सिंह को ज्ञापन सौंपकर उच्च अधिकारियों से जांच करवा कर पत्रकार पर की गई गलत कार्रवाई को वापस लेने एवं दोषी अधिकारीयों पर कार्रवाई की मांग की। प्राप्त जानकारी अनुसार मंडी बाजार के लोहार समुदाय द्वारा गणेश उत्सव का पंडाल लगाने को लेकर फेसबुक पर अभद्र टिप्पणी से जुड़ी पोस्ट को लेकर पत्रकार उमेश जंगाले की कोतवाली मे लिखित शिकायत की गई थी। पीडित पत्रकार उमेश जंगाले ने बताया की थाना कोतवाली प्रभारी जितेंद्र सिंह यादव ने शिकायत की बगेर जांच पड़ताल किये ही मुझ पर धारा 188 के तहत केस दर्ज कर दिया गया जबकि मेरे द्वारा फेसबुक या किसी भी शोसल साइट पर अभद्रता पूर्ण व धार्मिक भावना भड़काने जेसी कोई गलत पोस्ट नहीं डाली गई बावजूद इसके थाना प्रभारी ने द्वेष भावना रखते हुए मुझ पर गलत तरीके से केस दर्ज किया। जंगाले ने कहा की कुछ दिन पुर्व मेरे द्वारा मेरे मोहल्ले वासियों की गलत तरीके से पंडाल लगाने की शिकायत की गई थी जिससे आक्रोशित होकर उन्होंने मेरी झूठी शिकायत थाना कोतवाली में कि। जंगाले ने कहा की लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर पुलिस द्वारा कुठाराघात के विरोध स्वरूप जिले के पत्रकारो द्वारा जिला पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन लेने पश्चात पुलिस अधीक्षक श्री अजय सिंह ने कहा कि उक्त मामले की जांच वरिष्ठ अधिकारियों से कराई जाएंगी। इस दौरान अशोक सोनी, संजय दुबे, रितेश बाविस्कर, मुस्ताक भोपाली, संजय शिंदे, निलेश महाजन, नीलेश सोनी, शकील खान, मोहम्मद वसीम, एजाज खान, सलीम आलम, अनिल महाजन, शकील खान, रफिक अंसारी, निलेश महाजन, नितिन पंडित, रेहान खान, अजय शंखपाल, रमेश इंगले, पंकज जोशी, सुनील सलूजा, दिनकर इंगले, फिरोज खान, मुजफ्फर अली, रमाकांत मोरे, रमजान तड़वी, फिरोज तड़वी, सहित शहर एवं ग्रामीण के पत्रकार बडी संख्या मे मौजूद थे।

Related Articles

Back to top button
Close