बिहार

अनुग्रह स्कूल में मना “विश्व दृष्टि दिवस”।

IMG-20191031-WA0057
20191030_140350
IMG-20191030-WA0009
IMG-20191029-WA0080
IMG-20191029-WA0081
businesscard10_29_224733

अनुग्रह स्कूल में मना “विश्व दृष्टि दिवस”।

 

स्वास्थ विभाग के नेत्र विशेषज्ञ ने बच्चों को दिए मूल्यवान सुझाव।

 

लैपटॉप,स्मार्टफोन को 20 मिनट के उपयोग के बाद 20 सेकंड तक आंखों को दें विश्राम।

जिला मुख्यालय स्थित अनुग्रह मध्य विद्यालय में जिला स्वास्थ्य समिति के सौजन्य से विश्व दृष्टि दिवस का आयोजन किया गया।प्रधानाध्यापक उदय कुमार सिंह ने बताया कि अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी के पत्र के आलोक में जिले के नेत्र विशेषज्ञ डॉ संतोष कुमार सहित चिकित्सको का एक दल विद्यालय के सभागार में बच्चों व शिक्षकों को नेत्रों के देखभाल

के लिए महत्वपूर्ण जानकारियां दी।चिकित्सकों ने सुबह सूर्योदय से पहले उठकर मुंह में पानी भरकर बंद आंखों पर 20-25 बार ठंडे पानी के छींटे मारने की सलाह दी। मुंह पर छींटे मारते समय या चेहरे को पानी से धोते समय मुंह में पानी भरा होना चाहिए। धूप, गर्मी या श्रम के प्रभाव से शरीर गर्म हो तो चेहरे पर ठंडा पानी न डालने की सलाह दी। थोड़ा विश्राम कर पसीना सुखाकर और शरीर का तापमान सामान्य करके ही चेहरा धोने का सुझाव दिया। आंखों को गर्म पानी से नहीं धोना चाहिए, इससे आंखों को नुकसान होता है।बहुत दूर के पदार्थों या दृश्यों को देर तक नजर गड़ाकर न देखें, तेज धूप से चमकते दृश्य को न देखें, कम रोशनी में लिखना, पढ़ना व बारीक काम न करने की भी सलाह दी गयी। नींद, आंखों में भारीपन, जलन या थकान महसूस हो तो पढ़ाई या काम तत्काल बंद कर आंखों को थोड़ा विश्राम देने को कहा।देर रात तक जागना और सूर्योदय के बाद देर तक सोना आंखों के लिए हानिकारक होता है।आंखों को धूल, धुएं, धूप और तेज हवा से बचाना चाहिए। ऐसे वातावरण में ज्यादा देर न ठहरें। लगातार आंखों से काम ले रहे हों तो बीच में 1-2 बार आंखें बंद कर, आंखों पर हथेलियां से हल्के-हल्के दबाव के साथ रखकर आंखों को आराम देते रहने का सुझाव दिया।

शिक्षकों से डॉक्टरों ने बच्चों को पिछ्ले बेंच पर बिठाकर ब्लैकबोर्ड पर लिखे शब्दो को पढ़वाने को कहा ।यदि बच्चों को पढ़ने में परेशानी हो तो अवश्य उन्हें सदर अस्पताल नेत्र जांच हेतु भेजने को कहा।

हेडमास्टर ने नेत्र चिकित्सकों के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि “वर्ल्ड साइट डे” के अवसर पर विद्यालय के बच्चों को स्वास्थ्य विभाग ने नेत्रों के देखभाल के सुझावों के रूप में अनुपम भेंट दिया है।”विज़न फर्स्ट” थीम के कारगर कार्यान्वयन के लिए सरकारी स्कूलों का चयन को हेडमास्टर ने एक व्यवहारिक कदम बताया।

मौके पर शिक्षिकाएं मंजू कुमारी,शकुंतला गुप्ता,प्रभावती कुमारी,सरिता कुमारी,गंगोत्री कुमारी व सत्येंद्र चौधरी आदि उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button
Close