Breaking News

मानवाधिकार एवं बाल अधिकार विषय पर प्रशिक्षण एवं कार्यशाला का किया गया आयेजन।

Screenshot_20200314-220137_Facebook

मानवाधिकार एवं बाल अधिकार विषय पर प्रशिक्षण एवं कार्यशाला का किया गया आयेजन।

 

 

सोनभद्र- आज दिनांक 20/02/2020 को विवेकानन्द प्रेक्षा गृह रावर्ट्सगंज में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग भारत सरकार नईदिल्ली द्वारा प्रायोजित एवं सर्वोदय शिक्षण संस्थान रावर्ट्सगंज द्वारा आयोजित मानवाधिकार एवं बाल अधिकार प्रशिक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत सार्वजनिक जीवन में मानव के अधिकार एवं बच्चों के अधिकार पर प्रशिक्षण एवं कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का मुख्य अतिथि पूर्व चेयरमैन और वरिष्ठ साहित्यकार अजयशेखर जी, जिला प्रोबेशन अधिकारी डॉ अमरेन्द्र प्रोत्सायाँ कथाकार रामनाथ शिवेन्द्र ,ओम प्रकाश त्रिपाठी, नीलम सिंह,राजेश चौबे द्वारा संयुक्त रूप से द्वीप प्रज्जवलन एवं माँ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर किया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में मुख्य रूप से मानवाधिकार और बच्चों के अधिकार और सुरक्षा को लेकर चर्चा एवं प्रशिक्षण दिया गया। कार्यशाला में बाल अधिकार,बाल संरक्षण अधिनियम,किशोर न्याय अधिनियम 2015,लैंगिक अपराधों से बच्चों का संरक्षण अधिनियम (पोक्सो) 2012,महिला हिंसा,यौन शोषण, घरेलू हिंसा,महिला सुरक्षा, विषयक कानूनों की जानकारी दी गई।जिसमें मानव एवं बच्चों को सुरक्षित वातावरण एवं अधिकार दिए जाने को लेकर मुख्य वक्ता राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त सेवा निवृत्त शिक्षक ओम प्रकाश त्रिपाठी ने कहा कि हर बच्चे ,युवा ,वृद्ध, पुरुष, महिला सभी का शिक्षा,स्वास्थ्य,सांस्कृतिक सामाजिक,नैतिक,आध्यात्मिक,एवं अन्य भारतीय मनीषा के परिवेश में सारे अधिकार प्राप्त है सभी का दायित्व है कि जहां भी इन अधिकारों का हनन हो रहा है उसे सृजनात्मक प्रदान करें तथा बाल श्रम को रोकने में अपने सहयोग दें,जिससे बच्चों का बचपन ना छीना जाए।सभी कानूनों एवं अधिनियमों को विस्तृत रूप से जानकारी दिया।प्रशिक्षण कार्यक्रम में आये महिलाओं बच्चों,बच्चीयों की सुरक्षा और अधिकार को लेकर जानकारी दिया गया। सर्वोदय शिक्षण संस्थान के सचिव विष्णु तिवारी द्वारा कार्यक्रम में अतिथियों और प्रशिक्षणार्थियों का स्वागत करते हुए मानवाधिकार आयोग और बाल अधिकार विषय पर भी प्रशिक्षण में आये लोगो को विस्तृत जानकारी दिया गया। विष्णु तिवारी ने बताया कि भारत का राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (National Human Rights Commission (NHRC)) एक स्वायत्त विधिक संस्था है। इसकी स्थापना 12 अक्टूबर 1993 को हुई थी।इसकी स्थापना मानवाधिकार संरक्षण अधिनियम 1993 के तहत की गई। यह आयोग देश में मानवाधिकारों का प्रहरी है,यह सविंधान द्वारा अभिनिश्चित तथा अंतरराष्ट्रीय संधियों में निर्मित व्यक्तिगत अधिकारों का संरक्षक है। यह एक बहु सदसिय निकाय है। इसके प्रथम अध्यक्ष न्यायमूर्ति रंगनाथ मिश्र थे। मानवाधिकार मनुष्य के वे मूलभूत सार्वभौमिक अधिकार है।जिनसे मनुष्य को , राष्ट्रीयता, धर्म, लिंग आदि किसी भी दूसरे कारक के आधार पर वंचित नहीं किया जा सकता ।

 

1993 – प्रोटेक्शन ऑफ मून राइट्स एक् ट के तहत राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग की स्थापना।

 

2001 – खाद्य अधिकारों को लागू करने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने अतिरिक्त आदेश पास किया।

 

2005 – सूचना का अधिकार कानून पास।

 

2005 – रोजगार की समस्या हल करने के लिए राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी एक्ट पास।

 

2005 – भारतीय पुलिस के कमजोर मानव अधिकारों के लिए सुप्रीम कोर्ट ने पुलिस सुधार के निर्देश दिए। क्या काम करता है मानवाधिकार आयोग, भारत में कैसे है हालात ?

 

 

अजय शेखर जी ने बच्चों को शिक्षा ,स्वास्थ्य एवं अन्य सामाजिक क्रिया कलापों तथा राष्ट्रीय कार्यक्रमों में भागीदारी और सहभागिता का अधिकार है उसके लिए उन्हें सचेत रहने की आवश्यकता है । नीलम सिंह ने महिलाओं की समरसता स्थापित करने पर बल दिया।राजेश चौबे ने भी बच्चों एवं हर मानव के विकास में मानवीय मूल्यों पर अपने विचार रखे । डॉ अमरेन्द्र प्रोत्सायन ने बच्चों एवं महिलाओं को महिला कल्याण विभाग की योजनाओं जैसे सुमंगला योजना,बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की योजनाओं के विषय में अवगत कराया और उनके हर प्रकार के सहयोग करने की बात कही।

 

इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में मानव अधिकार और बाल अधिकार से जुड़े सभी कानूनों और अधिकारों के प्रति जागरूक एवं प्रशिक्षित किया गया।कार्यक्रम में रामनाथ शिवेन्द्र, अजयशेखर जी,ओम प्रकाश त्रिपाठी, अभय सिंह,शेष धर दुबे, राजेश चौबे,मुहम्मद हनीफ ,चन्दा मिश्रा,नीलम सिंह, राजेश चौबे

,,नीलम सिंह, अशोक तिवारी,प्रदुम्मन त्रिपाठी,सुनील सिंह,रोमी पाठक, नीतू यति,सीमा द्विवेदी, ,एवं अन्य सैकड़ो बच्चों एवं महिलाएं उपस्थित रहे। बेखौफ इण्डिया रिपब्लिक न्यूज़ चैनल मण्डल ब्यौरो चीफ़ श्याम जी पाठक

Related Articles

Back to top button
Close