उत्तर प्रदेश

साहेब के जंगल में घुसते ही खुल गयी पोल, गए थे पेड़ देखने, मौके पर मिला ठूं

WhatsApp Image 2020-03-07 at 19.50.37
IMG-20200523-WA0023

*साहेब के जंगल में घुसते ही खुल गयी पोल, गए थे पेड़ देखने, मौके पर मिला ठूं*

 

बेखौफ इंडिया रिपब्लिक न्यूज़ मंडल ब्यूरो चीफ श्याम जी पाठक

 

जनपद सोनभद्र म्योरपुर क्षेत्र में मचा सनसनी वन विभाग के आला अधिकारी की मिलीभगत से हो रहा है कालाबाजारी सरकार के कामों पर फिर रहे हैं पानी आगे आइए खुलते हैं वन विभाग का कालाबाजारी का पोल । लॉक डाउन में जहां हर कोई इस वैश्विक महामारी से बचने का उपाय ढूंढ रहा है वहीं म्योरपुर वन रेंज के अधिकारियों के साथ मिलीभगत कर वन माफिया जंगल साफ करने में ही जुटे हुए हैं । म्योरपुर वन रेंज के काचन का जंगल बेशकीमती लकड़ियों के लिए जाना जाता है मगर वन माफियाओं की ऐसी गिद्ध निगाह पड़ी कि जंगल से बेशकीमती लकड़ी गायब हो गया, अब सिर्फ ठूंठ मात्र बचा है।

राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य, भाजपा के चांद प्रकाश जैन की शिकायत पर बुधवार को रेनुकूट वन प्रभाग के म्योरपुर रेंज अंतर्गत काचन के खटाबरन जंगल में बेशकीमती पेड़ो की अवैध कटान की जांच करने पहुंचे मुख्य वन संरक्षक लखनऊ पंकज मिश्रा को भी यकीन नहीं था कि वहां ऐसा भी नजारा देखने को मिल सकता है । जैसे-जैसे मुख्य वन संरक्षक जंगल के अंदर घुसते गए अपने ही विभाग की पोल खुलती चली गयी ।निरीक्षण में सागौन के विशालकाय पेड़ के लगभग एक दर्जन से ज्यादा खूंटे मिले जो हाल ही के दिनों में काटे गए नजर आ रहे थे । जिसपर पंकज मिश्रा ने वन क्षेत्राधिकारी शहजादा इस्लामुद्दीन सहित वन कर्मियों को कड़ी फटकार लगाई । श्री मिश्रा ने इतने व्यापक पैमाने में हुए कटान को गंभीरता से लेते हुए तत्काल पांच टीम गठित कर जांच कराये जाने का निर्देश भी दिया है। मिली जानकारी के मुताबिक जांच टीम में दूसरे रेंज के अधिकारी होंगे, जो जांच करेंगे। आपको बतादें कि वन रेंज म्योरपुर का यह कोई नया मामला नहीं है, इसके पहले भी जांच होती रही है मगर वे सब ठंडे बस्ते में चली गयी । इस बार क्षेत्र के लोगों को उम्मीद है कि जांच के बाद बड़ी कार्यवाही होगी ।

निरीक्षण के बाद श्री मिश्रा ने कहा कि कटान बहुत व्यापक पैमाने पर हुआ है। लेकिन जो भी दोषी होगा वह बख्सा नहीं जाएगा

Related Articles

Back to top button
Close